Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 | बिहार डीजल अनुदान योजना At dbtagriculture.bihar.gov.in

0

bihar diesel anudan yojana: बिहार के किसानों के लिए शुरू की गई डीजल अनुदान योजना आज से शुरू हो गई है। किसान आज से ऑनलाइन आवेदन (how to apply diesel anudan yojana) कर सकत हैं। आइए जानते हैं इसके लिए कौन-कौन से कागजात की जरूरत होगी।

बिहार के किसानो के लिए बड़ी खुशखबरी: बिहार डीजल अनुदान योजना 2022 @dbtagriculture.bihar.gov.in की शुरुआत बिहार राज्य सरकार के द्वारा की गयी है। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को सिंचाई हेतु रबी एवं खरीफ की फसलों के लिए डीजल अनुदान का लाभ प्रदान किया जायेगा। Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 के तहत किसानों को 50 रूपए प्रति लीटर के हिसाब से अनुदान दिया जायेगा। किसानों को योजना के तहत सिंचाई के लिए डीजल पंप सेट का लाभ दिया जायेगा।

बिहार के सभी किसानो के लिए रहत भरी खबर: बिहार राज्य सरकार के द्वारा योजना में काफी संसोधन किये गए है किसानों को पहले 40 रूपए के आधार पर सब्सिडी प्रदान की जाती थी, जिसमें सरकार के द्वारा 10 रूपए की बढ़ोतरी की गयी है इसकी निर्धारित राशि 50 रूपए कर दी गयी है। कृषि कार्य में अभी किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए एवं उनकी आय में वृद्धि करने के लिए यह योजना शुरू की गयी है। कहानी अभी बाकी है इसलिए आप इस अर्टिकलर को अंत तक जरूर पढ़े….

bihar diesel anudan yojana 2022

Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 Highlights

योजना का नामबिहार डीजल अनुदान योजना 2022
राज्य का नामबिहार
योजना का शुभारंभबिहार सरकार के द्वारा
योजना का उद्देश्यकिसानों को कृषि कार्य में सिंचाई हेतु मदद करना
विभागप्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कृषि विभाग, बिहार सरकार
आवदेन शुल्क0/-रु
लाभकिसानों को सिंचाई हेतु 50 रूपए प्रति लीटर डीजल का अनुदान
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटdbtagriculture.bihar.gov.in

Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 | बिहार डीजल अनुदान योजना डायरेक्ट लिंक

नमस्कार दोस्तों, आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से हम आपको बिहार में सिंचाई के लिए डीजल अनुदान का लाभ ऐसे लें किसान, जानें आवेदन का तरीका शर्त व अन्य जानकारी, बिहार सरकार किसानों को खरीफ फसल की सिंचाई के लिए अब डीजल अनुदान का लाभ दे रही है. पात्र किसानों को इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा. जानिये क्या है तरीका और डायरेक्ट लिंक.

डीजल अनुदान लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया

बिहार के जो किसान राज्य सरकार से डीजल अनुदान चाहते हैं उन्हें ऑनलाइन आवेदन करना होगा। ऑनलाइन आवेदन के लिए किसान बिहार कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://dbtagriculture.bihar.gov.in/ पर जाएं। यहां आकर डीजल अनुदान के विकल्प पर क्लिक करें।

यहां मांगी गई जानकारी को सबमिट करें। यहां मुख्य रूप से डीजल की रसीद, सिंचाई सत्यापन फॉर्म, नाम, बटाईदार, आधार नंबर, बैंक अकाउंट की जानकारी समेत अन्य जानकारी भरें और फिर सबमिट कर दें। आवेदन प्रक्रिया सुबह 9 से शाम 6 बजे तक चलेगी।

धान की फसल के लिए अनुदान

कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने घोषणा की है कि किसानों को धान का बिचड़ा और जूट की दो बार सिंचाई के लिए अधिकतम 1200 रुपये प्रति एकड़ का अनुदान मिलेगा। खड़ी फसल में धान, मक्का, दलहनी, तेलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय और सुगंधित पौधों की 3 बार सिंचाई के लिए अधिकतम 1800 रुपये प्रति एकड़ अनुदान दिया जाएगा।

डीजल अनुदान देने में इस बात का ख्याल रखा जाएगा कि एक किसान 8 एकड़ की जमीन सिंचाई से ज्यादा रकम ना ले पाएं। पहले यह सीमा पांच एकड़ थी, अब इसे बढ़ाकर 8 एकड़ किया गया है।

बिहार में बारिश (Rain In Bihar ) की कमी के कारण कई जिलों में सुखाड़ की स्थिति है. खरीफ फसलों को डीजल चलित पम्पसेट से पटवन के लिए बिहार सरकार ने डीजल सब्सिडी (Diesel anudan bihar 2022) के लिये आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

इसका लाभ लेने के लिये किसानों को कृषि विभाग के डीबीटी पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा. किसान अपने मोबाइल, नजदीकी सीएससी व लैपटॉप सहित अन्य माध्यम से विभागीय पोर्टल पर डीजल अनुदान के लिये अपना आवेदन जमा करा सकते हैं.

600 रुपये प्रति एकड़

डीजल अनुदान के रूप में किसानों को 600 रुपये प्रति एकड़ की दर से अनुदान का लाभ मिलेगा. एक किसान अधिकतम आठ एकड़ खेत की सिंचाई के लिये अनुदान लाभ के लिये आवेदन कर सकते हैं. इसमें बिचड़ा आच्छादन के लिये दो व धान की फसल के लिये दो बार अनुदान के लिये आवेदन किया जा सकता है. आवेदन के साथ किसानों को कुछ जरूरी साक्ष्य भी उपलब्ध कराना होगा. ताकि अनुदान के लिये उनके दावों की सत्यता की जांच की जा सके.

खरीफ फसलों की सिंचाई

किसानों को खरीफ फसलों की डीजल पम्पसेट से सिंचाई करने के लिए खरीदे गये डीजल पर 60 रूपये प्रति लीटर की दर से 600 रुपये प्रति एकड़, प्रति सिंचाई डीजल अनुदान के रूप में दिया जायेगा.

  • किसानों को धान का बिचड़ा और जूट फसल की अधिकतम 2 सिंचाई के लिए 1200 रूपये प्रति एकड़.
  • खड़ी फसल में धान, मक्का या अन्य खरीफ फसलों के अंतर्गत दलहनी, तेलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय एवं सुगन्धित पौधे की अधिकतम 3 बार सिंचाई के लिए 1800 रूपये प्रति एकड़.
  • प्रति किसान अधिकतम 08 एकड़ के लिए डीजल अनुदान देय होगा.
  • वैसे किसान जो दूसरे की जमीन पर खेती करते है (गैर-रेयत) उन्हें प्रमाणित / सत्यापित करने के लिए सम्बन्धित वार्ड सदस्य एवं कृषि समन्वयक के द्वारा पहचान कराना अनिवार्य है.
  • सत्यापित करते समय यह ध्यान रखा जायेगा कि वास्तविक खेती करने वाले जोतदार को ही डीजल अनुदान का लाभ मिले. केवल वैसे ही किसान को इस योजना का लाभ लेने आवेदन करना है , जो वास्तव में डीजल का उपयोग कर सिंचाई कर रहे हैं.
  • कृषि समन्वयक के द्वारा इसकी जांच की जाएगी कि डीजल की खरीद करके वास्तव में किसान ने सिंचाई के लिए उपयोग किया या नहीं.
  • अधिकृत पेट्रोल पम्प से डीजल खरीदने के बाद डिजिटल पावती रसीद (डिजिटल वाऊचर) जिसमे किसान का 13 अंक का
  • पंजीकरण संख्या का अंतिम दस नंबर लिखा हो, वो मान्य होगा.
  • दिनांक 30.10.2022 तक सिंचाई के लिए खरीदे गये डीजल के लिए ही यह मान्य होगा.
  • इस योजना का लाभ ऑनलाईन रजिस्टर हुए किसानों को ही दिया जायेगा.
  • किसान कृषि विभाग, बिहार सरकार के वेबसाइट state.bihar.gov.in के दिये गये लिंक DBT in Agriculture पर या dbtagriculture.bihar.gov.in पर डीजल अनुदान के लिए आवेदन कर इस योजना का लाभ ले सकते हैं.

Bihar Diesel Subsidy Scheme 2022: बिहार सरकार डीजल अनुदान योजना के तहत किसानों को सिंचाई की सुविधा के लिए डीजल अनुदान दे रही है। इस योजना का डीजल पंप सेट से खेतों की सिंचाई करने वाले किसानों को लाभ मिलेगा।

बिहार के किसानों के लिए अच्छी खबर है। बिहार सरकार ने सूखे को देखते हुए डीजल अनुदान देने का फैसला लिया है। इस बाबत मंगलवार को ही नीतीश कैबिनेट ने मुहर भी लगा दी। वित्तीय वर्ष 2022-23 में बिहार राज्य आकस्मिकता निधि से कुल 29 करोड़ 95 लाख रुपए की अग्रिम स्वीकृति दी गई है। किसानों को प्रति लीटर डीजल पर 60 रुपए अनुदान मिलेगा।

इसके अलावा बिचड़ा बचाने और जूट की दो सिंचाई के लिए 1200 रुपए प्रति एकड़। धान, मक्का, खरीफ फसलों के तहत दलहनी, तिलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय, सुगंधित पौधों के लिए एक खेत के लिए अधिकतम 3 सिंचाई के लिए अधिकतम 1800 रुपये प्रति एकड़ की दर पैसा मिलेगा।

दरअसल, बिहार सरकार डीजल अनुदान योजना ( Bihar Diesel Anudan Yojna) के तहत किसानों को सिंचाई की सुविधा के लिए डीजल अनुदान दे रही है। इस अनुदान से डीजल पंप सेट से खेतों की सिंचाई करने वाले किसानों को लाभ मिलेगा। अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आवेदन कर फायदा उठा सकते हैं।

कितना मिलेगा अनुदान

बिहार सरकार ने सूखे को देखते हुए डीजल अनुदान योजना शुरू किया है। जिसके तहत राज्य सरकार किसानों को प्रति लीटर 60 रुपये की सब्सिडी देगी। एक एकड़ में सिंचाई के लिए 10 लीटर डीजल खपत के अनुसार कुल 600 रुपए प्रति एकड़ की दर से भुगतान करेगी। इसके अलावा धान, मक्का, खरीफ फसलों के तहत दलहनी, तिलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय, सुगंधित पौधों के लिए एक खेत के लिए अधिकतम 3 सिंचाई के लिए अधिकतम 1800 रुपये प्रति एकड़ की दर पैसा मिलेगा। वहीं, बिचड़ा बचाने और जूट की दो सिंचाई के लिए 1200 रुपए प्रति एकड़ बिहार सरकार डीजल अनुदान देगी।

अनुदान पाने के लिए जरुरी कागजात

अगर आप भी डीजल अनुदान योजना के तहत लाभ उठाना चाहते हैं तो आपके पास ये सभी जरुरी कागजात होना चाहिए। अगर ये कागजात नहीं होंगे तो आपको इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

  • बिहार राज्य का स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड ( पहचान पत्र )
  • बैंक पासबुक जो आधार से लिंक हो
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • किसान कृषि प्रमाण पत्र या कृषि भूमि से संबंधित डाक्यूमेंट्स
  • डीजल विक्रेता की रसीद

किसको मिलेगा डीजल अनुदान योजना का लाभ

डिजल योजना का लाभ पाने के लिए शर्त भी है। ऐसा नहीं है कि इस योजना का लाभ सबको मिलेगा। सबसे पहले बिहार डीजल योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदनकर्ता बिहार का स्थायी निवासी हो। साथ ही वह मूल रूप से किसान हो। इसके अलावा उसका किसी भी बैंक में खाता हो, जो आधार कार्ड से लिंक हो। आवेदक के पास कम से कम एक एकड़ कृषि योग्य भूमि हो।

कहां करना होगा आवेदन

बिहार सरकार की ओर से सिंचाई के लिए डीजल पर दी जा रही सब्सिडी का लाभ लेने के लिए कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। वहां पर डीजल अनुदान योजना 2022 पर क्लिक करें और फॉर्म भरकर सब्मिट करें। इसके अलावा किसान अपने जिले के कृषि अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं। किसान चाहें तो किसान कॉल सेंटर के टोलफ्री नंबर 1800-180-1551 पर कॉल कर जानकारी ले सकते हैं।

बिहार डीजल अनुदान योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

  • बिहार डीजल अनुदान योजना आवेदन करने के लिए सबसे पहले आप को इस पेज के अंत में जाना होगा।
  • उसके बाद दी गयी लिंक Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 पे क्लिक करें।
  • उसके बाद dbtagriculture.bihar.gov.in का एक नया पेज खुलेगा उस पर बिहार डीजल अनुदान योजना पे क्लिक करे।
  • अब मांगी गयी सभी जानकारी को सही से भरें। जानकारी को सही से भरने के बाद सबमिट बटन पे क्लिक करे।
  • अब आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाएगी तथा अपने आवेदन की प्रिंट निकाल कर अपने कृषि सलाहकार या किसान मित्र को आवश्यक जरुरी दस्तावेज छायाप्रति के साथ जमा कर दे।
  • उसके बाद आपका Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 ऑनलाइन अप्लाई हो जायेगा।
  • उसका दो प्रिंट ले लेना है एक को अपने पास भविष्य के लिए सुरक्षित रख ले तथा दुशरे को आवश्यक दस्तावेजो के छायाप्रति के साथ अपने पंचायत के किसान मित्र या कृषि सलाहकार को जमा कर दे।
  • नोट: आपको Bihar Diesel Anudan Yojana 2022 Online Form Apply 2022 प्रिंट निकाल का आवश्यक दस्तावेजो का छायाप्रति को साथ में लगाकर अपने कृषि सलाहकार को जमा कर दे या फिर अपने प्रखंड में भी आप जमा कर सकते है।
  • यह योजना अधिकतम 2 हेक्टेयर (494 डिसिमिल भूमि ) तक के लिए देय है।
  • कृपया आवेदन मे किए गए सुधार को पुनः जांच ले। एक बार सुधार अपडेट होने के पश्चात दुबारा सुधार संभव नहीं होगा।
  • अगर किसी कारण से आपका आवेदन रिजेक्ट कर दिया जाता हैं तो आप दुबारा पूर्णविचार के लिए आवेदन दे सकते है।
  • अगर आपके पास किसान Kishan Registration नहीं हैं तो आप पहले नजदीकी CSC सेंटर पर अपना किसान पंजीकरण करा ले

Contact Details

हमारे इस लेख में बिहार डीजल अनुदान से संबंधी सभी प्रकार की जानकारी को साझा किया गया है अगर आवेदक किसान को योजना से संबंधित किसी प्रकार की समस्या हेतु कोई समाधान के लिए संपर्क करना है तो वह नीचे दिए गए नंबर पर संपर्क कर अपनी समस्या के समाधान को प्राप्त कर सकते है।

टोल फ्री: 0612-2233555

आवेदन फॉर्म प्रिंट कैसे करे ?

  • बिहार कृषि इनपुट अनुदान आवेदन फॉर्म प्रिंट करने के लिए आपको निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे अपना कृषि इनपुट अनुदान एप्लीकेशन फॉर्म प्रिंट कर सकते है।
  • सबसे पहले आपको योजना की बिहार एग्रीकल्चर की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको आवेदन की स्थिति। /प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा आपको इस सेक्शन पर क्लिक करना होगा और फिर इस सेक्शन में से इनपुट सब्सिडी प्रिंट का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा । इस पेज पर आपको अपनी रजिस्ट्रेशन संख्या भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा। बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म आ जायेगा और आप आवेद फॉर्म को प्रिंट के बटन पर क्लिक करके प्रिंट कर सकते है।

बिहार डीजल अनुदान योजना आवेदन की स्थिति कैसे देखे?

  • सबसे पहले आपको योजना की बिहार एग्रीकल्चर की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आवेदन की स्थिति। /प्रिंट का सेक्शन दिखाई देगा आपको इस सेक्शन पर क्लिक करना होगा और फिर इस सेक्शन में से इनपुट सब्सिडी 2019 -20 स्थिति का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना  एप्लीकेशन नंबर भरना होगा और फिर सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा ।
  •  जिसके बाद आपके सामने आपके द्वारा दिए गए आवेदन की स्थिति आ जाएगी।

महत्वपूर्ण लिंक्स

बिहार डीजल अनुदान योजनायहां क्लिक करें
ऑफिसियल वेबसाइटयहां क्लिक करें
Previous articleBihar Yojana Online Apply | बिहार सरकार की योजनाएं 2022 At state.bihar.gov.in
Next articleLIC Premium Payment Online Kaise Kare 2022
प्रिय पाठको वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है, हम जानकारी की सटीकता, मूल्य या पूर्णता की कोई गारंटी नहीं लेते हैं, और जानकारी में किसी भी त्रुटि, चूक, या अशुद्धि के लिए हम जिम्मेदार या उत्तरदायी नहीं होंगे। हम आधिकारिक तौर पर वेबसाइट पर उल्लिखित किसी भी ब्रांड, उत्पाद या सेवाओं से संबंधित होने का दावा नहीं करते है। वेबसाइट पर उपयोग किए गए चित्र, नाम, मीडिया या लिंक केवल संदर्भ और सूचना के उद्देश्य के लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here